देवघर : निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किए गए मतदाता पहचान पत्र आपको एक मतदाता के तौर पर पहचान प्रदान करता है. ऐसे में आसन्न लोकसभा निर्वाचन 2019 तथा लोकसभा निर्वाचन के साथ होने वाली राज्य विधान सभाओं के साधारण निर्वाचन एवं उप निर्वाचनों के लिए सभी निर्वाचकों, जिन्हें फोटो पहचान पत्र जारी किए गए हैं, मतदान स्थल पर मत डालने से पहले दिखाएंगे. वहीं ऐसे मतदाता जो अपना फोटो पहचान पत्र नहीं प्रस्तुत कर पाते हैं, उन्हें अपनी पहचान स्थापित करने के लिए निम्न में से कोई एक दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा-

  1. वोटर कार्ड
  2. ड्राईविंग लाइसेंस
  3. राज्यध्केन्द्र सरकार अथवा लोक उपक्रमों के द्वारा जारी पहचान पत्र
  4. फोटोयुक्त बैंक पास बुक
  5. पैन कार्ड
  6. श्रम मंत्रालय द्वारा जारी किए गए स्मार्ट कार्ड
  7. मनरेगा जाॅब कार्ड
  8. सरकार द्वारा जारी किए गए हेल्थ स्मार्ट कार्ड
  9. पेंशन कार्ड
  10. सांसद अथवा विधायकों को प्राप्त आधिकारिक पहचान पत्र
  11. आधार कार्ड
  12. पासपोर्ट

कोई निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रदर्शित करता है, जो कि किसी अन्य निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाचक, रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा जारी किए गए हों. ऐसे एपिक भी पहचान स्थापित करने हेतु स्वीकृत किए जाएंगे, बशर्ते निर्वाचक का नाम जहां वह मतदान करने आया हो, उस मतदान केन्द्र से संबंधित निर्वाचक नामावली में उपलब्ध हो. यदि फोटोग्राफ इत्यादि के बेमेल होने के कारण निर्वाचक की पहचान सुनिश्चित करना संभव न हो तो उपर्युक्त दस्तावेजों में से किसी एक को प्रस्तुत करना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here