रहट : प्रखंड में पंचायत चुनाव पांचवें चरण में होना है। लेकिन अभी से ही गांवों में राजनीतिक तापमान चरम पर पहुंच गया है। यूं तो संभावित प्रत्याशी चुनाव के लिए काफी पहले से ही अपने पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश में जुटे थे। मगर चुनाव के समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं। बैसे जनसंपर्क और प्रचार में तेजी आ गई है ।तथा एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में कोई कसर नही छोड़ रहे। सबसे अधिक इस बार प्रत्याशी प्रचार के लिए सोशल मीडिया ,फ़ेसबुक , इंस्टाग्राम व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यमों का प्रयोग कर रहे हैं। ओर संध्या 5:00 बजते ही चौक चौराहे के चाय दुकानों पर भाबी प्रत्याशियों और उनके समर्थकों चाय की चुस्की लेने खूब शरीक हो रहे हैं। वहीँ भाबी प्रत्याशियों के समर्थक का एक दूसरे पर कटाक्ष करते नजर आते हैं।


सोशल मीडिया पर प्रचार प्रसार करने मोबाइल के माध्यम से प्रत्याशियों के समर्थक वाट्सएप के अलग-अलग ग्रुप्स पर बना कर अपने उपलब्धियों गिना रहे हैं। जिस पर हर एक की नजर पड़ रही है।जिस पर हर एक की नजर पड़ रही है। सोशल मीडिया के जरिए दावेदार अपने किए गए काम और शुरू की गई स्कीमों को वीडियो के माध्यम दिखा रहे हैं।
वहीं कुछ ऐसे भी संभावित उम्मीदवार है जो की जनता का मन मिजाज भांपने में लगे है। और जनता किसी को अभी भाव नहीं दे रही है। लोगों का कहना है कि हर चुनाव में पंचायत के सर्वांगीण विकास के नाम पर मतदाताओं को दिग्भ्रमित कर लोग सत्ता पर काबिज हो जाते हैं मगर उसके बाद खुद के विकास में लग गए।

लिहाजा इस बार आम मतदाता कुछ बोलने की वजह पूरी तरह खामोश हैं। ऐसी स्थिति में यह देखना होगा कि सोशल मीडिया को प्रचार के हथियार के रूप में इस्तेमाल करने वाले संभावित उम्मीदवार आम मतदाता को अपनी ओर आकर्षित करने में कितना सफल हो पाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here