जयपुर : खुद घूसखोर अगर घूस न लेने की दुहाई आपको दें तो आप उनको क्या कहेंगे? घूसखोर या एंटी करप्शन पिल। 3 दिन पहले यानि 9 दिसंबर को एंटी करप्शन डे था। जहां ACB ने अपने ही एक सीनियर अफसर भैरुलाल मीणा को गिरफ्तार कर लिया। भैरुलाल मीणा DSP हैं जिन्हे 80 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ़्तार किया गया है। यह कार्रवाई को जयपुर ACB की टीम के द्वारा बुधवार को सवाईमाधोपुर में की गई। इस खबर की ख़ास बात यह रही ट्रैप होने से पहले रिश्वत लेने के आरोपी DSP भैरुलाल खुद एंटी करप्शन डे के कार्यक्रम को संबोधित करके आया था।

यह है पूरा मामला
बता दें की, सुबह करीब 11 बजे आरोपी भैरुलाल मीणा कार्यालय में आयोजित किए एंटी करप्शन डे कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने पोस्टर और एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया।जिसकी मदद से कभी भी तरह के भ्रष्टाचार की शिकायत कर सकते हाइंज। जिसके महज़ 1 घंटे बाद आरोपी भैरूलाल अपने ऑफिस पहुंचा और रिश्वत लेते रांगे हाथपकड़ लिया गया। DG सोनी के बयां अनुसार पिछले कुछ महीनों से शिकायतें मिल रही थी कि भैरुलाल मीणा ने सवाईमाधोपुर में कई विभागों के बड़े अफसरों से मिलीभगत कर रखी है। वह अफसरों को ट्रैप की कार्रवाई नहीं करने का आश्वासन देकर मासिक बंधी के तौर पर उनसे रिश्वत वसूल करता है। यह रकम वह अपने ऑफिस में ही लेता था। तब पिछले दो तीन महीनों से ACB ने अपने ही अफसर भैरुलाल मीणा पर निगरानी रखनी शुरू की।

रिश्वत लेते हुए पकड़ा
ADG दिनेश एमएन ने बताया कि सवाईमाधोपुर का जिला परिवहन अधिकारी महेशचंद बुधवार को भैरुलाल मीणा को मासिक बंधी के 80 हजार रुपए की रिश्वत देने उसके ऑफिस गया था। तभी ACB टीम ने रिश्वत लेते और देने के जुर्म में भैरुलाल और DTO महेशचंद को गिरफ्तार कर लिया।इसके रिश्वत की रकम बरामद की और उनके घरों की तलाशी के ऑर्डर भी देदिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here