पालक का सीजन है तो इसे रोज़ाना अपनी डायट में शामिल जरूर करिए। पालक से आप ढेर सारी चीज़ें जैस परांठा, पकौड़ी, कढ़ी आदि बना सकती हैं, लेकिन पालक की दाल बच्चों और बड़ों दोनों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। पालक दाल को आप किसी भी दाल जैसे तुअर या चना दाल या फिर सारी दालें मिक्स करके बना सकती हैं। लेकिन आज हम इसे चना दाल के साथ मिक्स करके बनाने जा रहे हैं जो बनाने में बहुत ही आसान और स्वादिष्ट होती है। इसे आप रोटी या चावल के साथ खा सकते हैं।

सामग्री
एक बंडल- पालक (साफ करके बारीक कटा हुआ)
एक कप- चना दाल
एक- टमाटर (बारीक कटा हुआ)
नमक- स्वादानुसार
हल्दी- ¼ टीस्पून
एक टीस्पून- अदरक-लहसुन का पेस्ट
एक टीस्पून- जीरा-कालीमिर्च पाउडर
एक टीस्पून- धनिया पाउडर
दो- हरी मिर्च (कटी हुई)
एक टीस्पून- जीरा
चुटकीभर हींग
7-8 करीपत्ते
एक- सूखी लालमिर्च
2 टीस्पून सरसों का तेल

विधि
कुकर में पालक, धोई हुई चने की दाल, कटा टमाटर, नमक और हल्दी को डालकर मीडियम आंच पर 5-6 सीटी या दाल गल जाने तक उबालें। अब कड़ाही में तेल गरम करके जीरा, हींग, सूखी लालमिर्च और करीपत्ता का तड़का लगाएं। कटी हुई हरी मिर्च डालें। अब अदरक लहसुन का पेस्ट डालकर भूनें। इसमें धनिया पाउडर और जीरा-कालीमिर्च का पाउडर डालकर एक मिनट तक भूनें। अब उबली हुई दाल को डालकर अच्छी तरह से मैश कर लें। और धीमीं आच पर कुच देर पकने दें। ध्यान रहे दाल बहुत पतली न करें। इसे गाढ़ा ही रहने दें। गरम-गरम दाल रोटी या चावल के साथ सर्व करें।

नोट- कुकरी एक्सपर्ट्स के मुताबिक, आप तेल की जगह घी का इस्तेमाल कर सकती हैं। घी से स्वाद और बढ़ जाता है। साथ ही आप चने की दाल की बजाय सिर्फ तुअर दाल में भी इसे बना सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here