नई दिल्ली/ संवाददाता।

लॉकडाउन के चलते देश के अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूर  अपने-अपने घर पहुंचने के लिए नए-नए तरीके निकाल रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला शनिवार को तब सामने आया, जब सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर वाले चार पहिया गाड़ी में छिपकर अपने गृह राज्य को लौट रहे कुछ मजदूरों को पुलिस ने पकड़ लिया।

दरअसल, 14 प्रवासी मजदूर समेत 18 लोग महाराष्ट्र  के सीमेंट-कांक्रीट मिक्सर व्हीकल में छिपकर उत्तर प्रदेश जा रहे थे।

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में चेकिंग कर रही ट्रैफिक पुलिस ने इन मजदूरों को बीच में ही रोक लिया और शेल्टर होम में भेजे दिया।

ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी अमित कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि इंदौर से लगभग 35 किलोमीटर दूर पंथ पिपलई गांव में जांच के दौरान इस ट्रक को रोका गया था।शक होने होने पर जब मिक्सर का टक्कन खुलवाया गया तो इसमें से 18 लोग निकले। इनमें 14 मजदूर और चार अन्य लोग शामिल हैं।पुलिस पूछताछ में मजदूरों ने बताया कि वह उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं और लॉकडाउन के चलते महाराष्ट्र में फंसे गए।इसलिए किसी तरह लखनऊ पहुंचाने चाहते हैं। फिलहाल इनका मेडिकल चेकअप कराकर यूपी भेजने की तैयारी की जा रही है। वहीं, ट्रक को जब्त कर लिया गया है और ड्राइवर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। आपको बता दें कि कांक्रीट व्हीकल में प्रवासी मजदूरों का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

जिस वीडियो को देखकर साफ पता चलता है कि प्रवासी मजदूर अपने घरों तक पहुंचने के लिए कैसे-कैसे साधन अपना रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here