• प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गंगा विलास क्रूज यात्रा को 13 जनवरी को वर्चुअल हरी झंडी दिखाकर करेगे रवाना
  • प्रधानमंत्री इस लग्जरी क्रूज को वाराणसी से डिब्रूगढ़ के लिए करेंगे रवाना


वाराणसी। कोलकाता से 22 दिसंबर को रवाना हुई गंगा विलास लग्जरी क्रूज मंगलवार को वाराणसी पहुंच गया है।मौसम खराब होने की वजह से यह 3 दिन देर से काशी पहुंचा। क्रूज रामनगर बंदरगाह से वाराणसी के संत रविदास घाट पर पहुंचेगा। यहां पर उसका भव्य स्वागत होगा।दुनिया के सबसे लंबे जलमार्ग पर चलने वाले गंगा विलास क्रूज यात्रा को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 13 जनवरी को वर्चुअल हरी झंडी दिखाएंगे।

 

प्रधानमंत्री इस लग्जरी क्रूज को वाराणसी से डिब्रूगढ़ के लिए रवाना करेंगे। 51 दिनों तक एडवेंचरस सफर पर निकलने वाला यह क्रूज 15 दिनों तक बांग्लादेश से गुजरेगा। इसके बाद असम के बह्मपुत्र नदी से डिब्रूगढ़ तक जाएगा। यह क्रूज यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, बांग्लादेश और असम के कुल 27 रिवर सिस्टम से गुजरेगा।

 

इसमें रास्ते में मुख्य तीन नदियां गंगा, मेघना और ब्रह्मपुत्र नदिया पड़ेंगी। क्रूज बंगाल में गंगा की सहायक और दूसरे नामों से प्रचलित भागीरथी, हुगली, बिद्यावती, मालटा, सुंदरवन रिवर सिस्टम, वहीं बांग्लादेश में मेघना, पद्मा, जमुना और फिर भारत में ब्रह्मपुत्र से आसाम में प्रवेश करेगा। भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल की वजह से यह यात्रा बांग्लादेश को क्रॉस करेगी। क्रूज यात्री 15 दिनों तक बांग्लादेश में पर्यटन करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.