देवघर/केशव यादव: देवघर में दिनांक 4 दिसंबर 2022 को अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के प्रदेश इकाई प्रांतीय यादव महासभा में आने वाले समय में शताब्दी समारोह मनाने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में आज शताब्दी समारोह के प्रदेश कमेटी की एक बैठक शताब्दी समारोह की अध्यक्ष अध्यक्ष झारखंड सरकार के पूर्व मंत्री कोडरमा विधायिका डॉ नीरा यादव की अध्यक्षता में समारोह के उपाध्यक्ष संजय प्रसाद यादव, भारतीय यादव महासभा के अध्यक्ष पितांबर दास, शताब्दी समारोह के शाह कोऑर्डिनेटर सुनील जाधव की उपस्थिति में प्रथम बैठक देवघर जिला के कुंडा स्थित महालक्ष्मी नगर में हुई।

 

देश में प्रदेश शताब्दी समारोह के सभी सदस्यों के अलावा जिला कोर कमेटी के सभी सदस्य उपस्थित हुए। जिसमें सबों ने एक स्वर में कहा कि आने वाले वर्ष में जो शताब्दी समारोह होने वाला है। उसकी आगाज बाबा बैद्यनाथ की नगरी देवघर से भव्य तरीके से किया जाए जिसका मैसेज झारखंड ही नहीं बल्कि पूरे देश में जाए क्योंकि पूरे देश से उस दिन बाबा बैजनाथ की नगरी देवघर में हजारों यदुवंशी उपस्थित होंगे तो वह ऐसा मैसेज लेकर जाएं कि देवघर का नाम पूरे देश के मानचित्र पर सबसे ऊपर हो सभा को संबोधित करते हुए शताब्दी समारोह की अध्यक्ष नीरज यादव ने कहा बाबा बैद्यनाथ की नगरी देवघर में हमारे समाज के लोगों के लिए यह सुनहरा मौका है कि उस दिन वह अपने घर से भाई बहन माताएं बहने सभी निकले और इस शोभा यात्रा को सफल बना कर इतिहास लिख डालें जो शताब्दी समारोह आने वाले कई सदियों तक देवघर वासियों के लिए यादगार बने सभा को संबोधित करते हुए गोड्डा के पूर्व विधायक शताब्दी समारोह के उपाध्यक्ष संजय प्रसाद यादव ने कहा की शताब्दी समारोह हम यदुवंशियों के लिए ऐसा महापर्व है।

 

जिसे सभी यदुवंशी आपस में मिलजुल कर बहुत ही धूमधाम से मनाएं यह ना किसी पार्टी का है ना किसी व्यक्ति विशेष का है इसमें किसी भी प्रकार से देश को नहीं लाना है। यदुवंशियों के जितने भी संगठन हैं। सभी एक मंच पर आएं और इस शताब्दी समारोह को यादगार बनाएं क्योंकि यह देश का प्रथम संगठन है। जो शताब्दी समारोह मनाने जा रहे इसका हम सभी को गर्व है कि हम लोग को यह पर मनाने का सुनहरा अवसर प्राप्त हुआ है। प्रदेश अध्यक्ष पितांबर देश ने कहा कि मैंने आज देवघर में देख लिया कि आप लोगों के जुनून आने वाले शताब्दी समारोह में बहुत ही काम आएगा और देवघर पूरे झारखंड ही नहीं बल्कि देश में एक ऐसा मैसेज देगा। जिसकी कल्पना लोगों ने नहीं की होगी क्योंकि इस सभा में ऐसे ऐसे लोग उपस्थित हैं।

 

जिनका समाज में अपना अलग ही पहचान है और समाज को एकत्रित करने में सदा तत्पर रहते हैं। सभा को संबोधित करते हुए शताब्दी समारोह के कोऑर्डिनेटर सुनील यादव ने कहा कि आने वाला 22 जनवरी 2023 को पर्व के रूप में मनाया जाए। जो लोग आने वाली पीढ़ी को यह बताएं कि जाति बंधुओं का यह सम्मेलन देवघर में जनवरी 23 में हुआ था। इसे ऐसा यादगार बनाएं हम सभी मिलकर सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष कृष्णा सिंह यादव ने कहा कि हम देवघर वासियों के लिए गर्व की बात है कि इतने बड़े हमारे समाज का पर्व का आगाज हम लोगों के शहर से हो रहा है। हम लोगों को ऐसा उस दिन को करके दिखाना है। जो आने वाले बच्चे को उसके अभिभावक किस दिन को याद करके बताएं कि बेटा हम यदुवंशियों का जो सम्मेलन जनवरी 23 में हुआ था। वह आज ही हम लोगों को याद है ऐसा सम्मेलन अभी तक हम लोगों ने नहीं दे तो यह तभी संभव है। जब पूरे देवघर जिला के हम यदुवंशी सभी भेदभाव को मिटा कर एक मंच पर आए और इस महापर्व को धूमधाम से मनाते हुए पूरे देश में एक मैसेज देने का काम करें।

 

आज की बैठक में मुख्य रूप से प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रमेश प्रसाद यादव, आनंदमय पतरा दिगंबर यादव, युवा जिला अध्यक्ष मुकेश यादव, विमलेश यादव, कमलेश कुमार यादव, सूरज यादव, महिला प्रदेश अध्यक्ष मीरा राय, महिला सचिव नीतू सिंह, देवघर महिला जिला अध्यक्ष रचना यादव, धनबाद जिला अध्यक्ष विनीता यादव, प्रदेश महासचिव अनीता सिंह यादव, देवघर जिला अध्यक्ष नगेंद्र प्रसाद यादव, प्रधान महासचिव आलोक राज, कोषा अध्यक्ष अखिलेश राय, उपाध्यक्ष विनोद यादव, कार्तिक यादव, बिहारी महतो, सचिव सुजीत यादव, सरैयाहाट के जिला परिषद सदस्य के अलाव पुरुषोत्तम यादव, सुमन यादव, इंजीनियर राजीव यादव, श्याम यादव, लल्लन यादव, शत्रुघन यादव आदि मौजूद रहे। जिनकी मौजूदगी में बैठक की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.