• ‘‘कार्यकर्ताओं के दरबार में माननीय मंत्री’’
    प्रदेश मुख्यालय में बुधवार को ‘‘कार्यकर्ताओं के दरबार में माननीय मंत्री’’ कार्यक्रम में ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार एवं माननीय लघु जल संसाधन मंत्री श्री जयंत राज जी हुए सम्मिलित
  • कई प्रखंडों में मनरेगा का काम रुक गया है, आने वाले समय में यह समस्या पूरे बिहार में आने वाली है
  • शराबबंदी पर विधान मंडल में दिए गए अपने बयान को सुशील मोदी सुनें और गुजरात में शराब चालू करवावें : जयंत राज
  • कुढ़नी में महागठबंधन समर्थित श्री मनोज कुशवाहा भारी अंतर से चुनाव जीतने जा रहे हैं

 

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के निर्देश पर प्रदेश कार्यालय में सरकार और जनता के बीच सीधा संवाद स्थापित करने एवं जनसमस्याओं के समाधान हेतु होने वाले ‘‘कार्यकर्ताओं के दरबार में माननीय मंत्री’’ कार्यक्रम में बुधवार को माननीय ग्रामीण विकास मंत्री श्री श्रवण कुमार जी एवं माननीय लघु जल संसाधन मंत्री श्री जयंत राज जी सम्मिलित हुए और विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों की समस्याओं को सुन उनका समाधान किया व संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।
‘‘कार्यकत्ताओं के दरबार में माननीय मंत्री’’ कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बात करते हुए ग्रामीण विकास मंत्री माननीय श्री श्रवण कुमार जी ने बताया कि मनरेगा के तहत बिहार को 1750 करोड़ मानव दिवस सृजन का लक्ष्य मिला था जिसके विरुद्ध राज्य में अब तक 1797 करोड़ मानव दिवस सृजित किया गया हैl हमलोगों को मात्र 1500 करोड़ मानव दिवस मिला था, उसके पूरा होने के बाद हमलोगों ने 12 करोड़ मानव दिवस की मांग केंद्र से की थी पर केंद्र ने मात्र ढ़ाई करोड़ की स्वीकृति दी थी। यही नहीं मनरेगा के सामग्री मद का भी 1045 करोड़ रुपया केंद्र सरकार के पास बकाया है। उन्होंने आगे बताया कि फिलहाल कई प्रखंडों में मनरेगा का काम रुक गया है और आने वाले समय में पूरे बिहार में यह समस्या होने की आशंका बनी हुयी हैl इस परिस्थिति में देश में 100 दिन काम की गारंटी के बावजूद आने वाले समय में बिहार से श्रमिकों का पलायन होना शुरू होगा जिसकी सारी जिम्मेवारी केंद्र सरकार एवं केन्द्रीय ग्रामीण विकास विभाग की होगी।


मंत्री श्री कुमार ने एक सवाल के जवाब में कहा कि श्री सुशील मोदी जी एक बड़े नेता हैं उनकी बात पर मैं कोई टिप्पणी नहीं करूंगा पर उन्हें एक सलाह जरूर दूंगा कि वो 2024 की चिंता करें क्योंकि यूपी, छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में बिहार माडल की चर्चा हो रही हैl जहां सभी घरों में स्वच्छ पानी, गाँव-गाँव में पक्की गली-नाली बन रही हैl सुशील मोदी जी सहित भाजपा के नेता बिहार को विशेष राज्य और पटना विवि को केन्द्रीय विवि का दर्जा दिलवाने तथा जातीय जनगणना कराने का काम करवाने का काम क्यों नहीं करते ? उन्होंने कहा कि देश में बढ़ती अराजकता और मंहगाई के विरुद्ध बिहार से बिगुल फूंका जा चुका है। देश के तमाम नेताओं को बिहार एवं महागठबंधन के नेताओं से काफी उम्मीदें हैं।

 

लघु जल संसाधन मंत्री श्री जयंत राज ने कुढ़नी उपचुनाव के संदर्भ में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि महागठबंधन समर्थित जदयू प्रत्याशी श्री मनोज कुशवाहा के लिए वहाँ महागठबंधन के सारे नेता लगे हुए हैं और हमारे प्रत्याशी भारी अंतर से चुनाव जीतने जा रहे हैंl शराबबंदी कानून पर विचार करने संबंधी नेताओं के बयान के संदर्भ में पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इससे बिहार का माहौल काफी बदला है और गरीब लोगों के जीवन स्तर में काफी सुधार हुआ हैl श्री सुशील मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि वो सबसे पहले गुजरात में शराब चालू करवावें न, वैसे उन्हें विधान मंडल में शराबबंदी पर दिए गए अपने बयान को पहले जरूर सुनना चाहिएl चिराग पासवान एवं पशुपति पारस के मामले पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह उन लोगों का आपसी मामला
उक्त अवसर पर पार्टी के सांसद श्री फ़ैयाज अहमद, विधायक श्री निरंजन कुमार मेहता, प्रदेश मुख्यालय प्रभारी श्री मृत्युंजय कुमार सिंह, महासचिव श्री लोक प्रकाश सिंह भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.