हिसुआ (नवादा)। हिसुआ अंचलाधिकारी के आदेश नहीं मान रहे हैं। उनके हीं कर्मचारी और लाभ- शुभ के चक्कर में कर रहे मनमानी। हिसुआ प्रखंड अन्तर्गत दोना पंचायत के डिहुरी ग्राम टोला मुरकट्टा में अवैध रजिस्ट्री की दाखिल खारिज रोकने के संबंध में पीड़ित मुकेश कुमार ने हिसुआ अंचलाधिकारी लोकेश कुमार को लिखित आवेदन देकर दाखिल खारिज को रोकने के मांग किया था। जिसको रोकने के लिए अंचलाधिकारी ने कर्मचारी को कहा, लेकिन उनके कर्मचारी प्रवीण किशोर अलबेला उनके आदेश नहीं मान रहे हैं।

 

पीड़ित मुकेश कुमार पिता रामोतार चौहान ने बताया कि उनके हिस्से का जमीन खाता संख्या 213, प्लॉट संख्या 1391से 26 डिसमिल जमीन को चुपके से उनके भाई सुरेंद्र कुमार पिता रामोतार ने गांव के हीं मनोज यादव पिता रामस्वरूप यादव को दिनांक 26 अक्टूबर 2022 को बेच दिया। इस प्लॉट की रजिस्ट्री की कम्प्युटराईज छायाप्रति एवं भू लगान की रसीद की छायाप्रति लगाकर अंचलाधिकारी को दिया। उन्होंने दाखिल खारिज रोकने के लिए आदेश जारी किया था। लेकिन कर्मचारी द्वारा नाजायज राशि मांगा जा रहा है। पीड़ित ने डीएम को लिखित शिकायत कर कार्रवाई का मांग किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.