पटना: लोकसभा चुनाव 2024 में जीत की हैट्रिक के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी रणनीति में संशोधन किया है। पार्टी ने अपने क्लस्टर प्लान में संशोधन किया है। बीजेपी बिहार में जीती हुई सीटों को बरकरार रखने के अलावा उन सीटों पर फोकस करेगी, जहां पिछले चुनाव में गठबंधन के सहयोगियों या विरोधियों को जीत मिली थी। इसी के तहत पार्टी के शीर्ष रणनीतिकारों ने बिहार से क्लस्टर प्लान में पहले से चयनित चार सीटों की संख्या को बढ़ाकर 10 कर दिया है। ऐसे में अब राष्ट्रीय स्तर पर 144 से बढ़ाकर क्लस्टर सीटों की संख्या 150 हो गई है। इन चुनिंदा सीटों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मेगा रैली होगी।

पार्टी रोडमैप तैयार कर चुकी है। इन सीटों को डेमोग्राफी और लोकल फैक्टर्स के लिहाज से अलग-अलग क्लस्टर में बांटा गया है। हर क्लस्टर के लिए किसी न किसी केंद्रीय मंत्री को प्रभारी बनाया गया है। हिमाचल और गुजरात के चुनाव के बाद मंत्रियों का प्रवास शुरू होगा।

 

पहले मई में तैयार क्लस्टर प्लान में बिहार की चार सीटें (किशनगंज, नवादा, वैशाली, वाल्मीकिनगर) ली गई थीं। लेकिन राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से जनता दल यूनाइटेड के अलग होने के बाद बिहार से छह सीटें (कटिहार, पूर्णिया, गया, झंझारपुर, सुपौल और मुंगेर) और जोड़ी गई हैं। अहम यह है कि मुंगेर सीट जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.