• सिमरा घाट से जेसीबी मशीन से बालू की हो रही है लोडिंग
  • सिमरा घाट से बंदरबोना की ओर ट्रैक्टर से सैकड़ों टेलर बालू डंपिंग किया है: डंपिंग से बालू सेलिंग किया जाता है

मोहनपुर: थाना क्षेत्र के अंतर्गत सिमरा घाट एवं बंदरबोना बालू घाट में जेसीबी मशीन से बालू लोडिंग कर डंपिंग किया जा रहा है,बालू को अधिक दामों में डंपिंग से बेचा जाता है। नदी से जेसीबी मशीन से ट्रैक्टर में लोड कर सैकड़ों गाड़ी डंपिंग करके दूसरी गाड़ी को बालू बेचा जाता है। एनजीटी हटते ही बालू माफिया जेसीबी मशीन लगाकर बालू लोडिंग करवा रहे हैं। सैकड़ों ट्रैक्टर हर रोज बालू अवैध रूप से उत्खनन कर सरकार को लाखों रुपए की चुना हर रोज लगा रहे हैं।

 

बालू माफिया के द्वारा बालू अलग-अलग जगहों पर भेजा जाता है। प्रशासन की भनक तक नहीं लगने देते हैं बालू माफिया थाने से लेकर चौक चौराहे पर बैठे रहते हैं। बालू माफिया पुलिस की गाड़ी निकलते ही सूचना पहुंच जाते हैं। नदी घाट तक तुरंत हट जाते हैं जेसीबी मशीन एवं ट्रैक्टर, सिमरा घाट से बालू ठाकर हिंडोलावरन एवं कुंडा मोड़ तक बालू माफिया बैठे रहते हैं। पुलिस की सूचना पल-पल तक रखते हैं वही बालू तपोवन होते हुए कुंडा तक ले जाते हैं एवं दूसरी ओर कटवन की रास्ते से होते हुए हिंडोलावरण की तरफ ले जाकर अधिक दामों में बालू बेचे जाते हैं।

बालू माफिया के द्वारा जेसीबी मशीन से अवैध उत्खनन बालू को हर रोज सैकड़ों ट्रैक्टर बेचते हैं सरकार को लाखों रुपए की चुनाव हर रोज लगा रहे हैं एनजीटी हटते ही बालू माफिया नदी के घाटों से अवैध उत्खनन कर रहे हैं एवं निडर होकर जेसीबी मशीन से बालू लोडिंग करवा रहे हैं। प्रशासन को सूचना मिलने पर भी नहीं पहुंच रहे हैं। नदी आखिरी तालमेल क्या है। जो प्रशासन को सूचना मिलने पर भी बालू घाट नहीं पहुंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.