तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के फैकल्टी आॅफ इंजीनियरिंग-एफओई की एल्युमनाई मीट-2022 में कुलाधिपति श्री सुरेश जैन और एमएलसी डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त की गरिमामई मौजूदगी में टीएमयू के पूर्व छात्र श्री शादाब लोहार ने साझा की अपने सफलता की कहानी।

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद के फैकल्टी आॅफ इंजीनियरिंग-एफओई एल्युमनाई मीट-2022 में दर्जन भर एल्युमनाई ने कुलाधिपति श्री सुरेश जैन और एमएलसी डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त की गरिमामई मौजूदगी में अपने अनुभाव साझा किए। एल्युमनस श्री शादाब लोहार बोले, वह वर्तमान में 100 करोड़ टर्न ओवर के साथ अपना लोहार समूह चला रहे हैं। उन्होंने सभी को अपने समूह में शामिल होने की पेशकश की। उन्होंने फैकल्टी आॅफ इंजीनियरिंग, टीएमयू का हिस्सा बने रहने पर गर्व महसूस किया। साथ ही टीएमयू से जुड़ी अपनी स्मृति को याद किया। ट्री४७.ं्र मीयुक्सडॉटएआई, पेरिस के सीईओ और सह-संस्थापक एवम् पूर्व छात्र श्री प्रफुल्ल शर्मा ने अपने विचार आॅनलाइन रखे। उन्होंने टीएमयू के साथ अपनी पुरानी यादों को ताजा किया। उन्होंने जीवन का मंत्र दिया- अगली चुनौतियों के लिए हमेशा पहले से तैयार रहना है। अल्ट्राटेक सीमेंट के प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यरत पूर्व छात्र श्री नितिन जोशी ने भी अपने अनुभव को साझा करते हुए अपने करियर की यात्रा पर भी विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने छात्रों को हमेशा प्रयास मोड में बने रहने के लिए प्रेरित किया, चाहे स्थिति कैसी भी हो।

 

 


इससे पूर्व एल्युमनाई मीट-2022 का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन और एमएलसी श्री जयपाल सिंह व्यस्त ने माँ सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित करके किया। उद्घाटन मौके पर टीएमयू के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह, एफओईसीएस के निदेशक प्राचार्य प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी, रजिस्ट्रार डॉ. आदित्य शर्मा, एसोसिएट डीन एकेडेमिक्स डॉ. मंजुला जैन,, ज्वाइंट रजिस्ट्रार प्रो. निखिल रस्तोगी, सभी एल्युमनाई और स्टुडेंट्स की उल्लेखनीय मौजूदगी रही। एल्युमनाई मीट में 2012 के बाद से विभिन्न बैचों के 155 से अधिक पूर्व छात्रों ने ब्लेंडेड मोड में प्रतिभाग किया। कुल 12 पूर्व छात्रों ने कॉलेज जीवन से लेकर नौकरी या स्वरोजगार यात्रा तक के अपने बहुमूल्य अनुभव साझा किए। एल्युमनाई मीट में भाग लेने वाले पूर्व छात्र यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली और हरियाणा सहित देश के विभिन्न हिस्सों से थे। उद्घाटन सत्र के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम और खेल का भी आयोजन हुआ। इसके बाद प्रमाण पत्र और पुरस्कार वितरित किए गए। एल्युमनाई मीट-2022 फिर से मिलने के वादे के साथ समाप्त हुई और सभी ने एक-दूसरे को भावभीनी विदाई दी।

 

 

 

टीएमयू के कुलाधिपति श्री सुरेश जैन ने अपने सारगर्भित एवम् संक्षिप्त संबोधन से सभी पूर्व छात्रों को प्रेरित किया। उन्होंने सभी पूर्व छात्रों के साथ न केवल बातचीत की, बल्कि उनके अनुभवों और संस्मरणों को संजीदगी के साथ सुना। उन्होंने सभी पूर्व छात्रों से व्यक्तिगत रूप से बातचीत करके उन्हें गौरवान्वित महसूस कराया और सत्रवार बैच में तस्वीर भी खिंचवाई। एफओईसीएस के निदेशक प्राचार्य प्रो. राकेश कुमार द्विवेदी ने जीवन के सभी क्षेत्रों में संस्थान के पूर्व छात्रों की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए पूर्व छात्रों और संस्थान के बीच संबंधों को और मजबूत करने की आवश्यकता पर जोरदार वकालत की। दिया। उन्होंने सभी छात्र-छात्राओं से कॉलेज एल्युमनाई के विचारों को सुनने और उनके अनुभवों से सीखने के लिए प्रोत्साहित किया। अंत में फैकल्टी आॅफ इंजीनियरिंग की एल्युमनाई कोआॅर्डिनेटर डॉ. गुलिस्ता खान ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर डॉ. विपिन कुमार, श्री प्रशांत कुमार, सुश्री इंदु त्रिपाठी, श्री राहुल विश्नोई आदि मौजूद रहे। संचालन सुश्री नेहा आनंद और डॉ. असीम अहमद ने किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.