देवघर: देवघर पुलिस ने 6 शातिर साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया. सभी अपराधी रोज़ाना ठगी का नया-नया तरीका अपना कर लोगों से ठगी करते थे. ठगी के लिए ज्यादातर ऑनलाइन एप का इस्तमाल किया जाता था. पुलिस को लगातार ठगी की शिकायत मिल रही थी. जिसे गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर गिरोह के 6 सदस्दों को गिरफ्तरार किया. पुलिस ने 14 मोबाइल,27 फ़र्ज़ी सीम,13 एटीएम,2 पासबुक,2 चेकबुक और 8 हज़ार नगद बरामद किया.

शातिर अपराधी उपहार योजना एप्प को हैक कर बड़ी चालाकी से इसमें अपना फ़र्ज़ी बैंक एकाउंट डाल कर भोले भाले लोगों से ठगी करते थे. इन्होंने पीएम किसान सम्मान योजना के लाभुकों को भी फ़ोन कर ठगी का शिकार बनाया. इसके अलावा गूगल सर्च इंजन के विभिन्न कस्टमर केअर हेल्पलाइन में अपना फर्जी मोबाइल नंबर डाल कर भी ठगी की घटना को अंजाम दिया करते थे. इनके द्वारा फ़र्ज़ी बैंक अधिकारी बन या अन्य तरह का प्रलोभन देकर लोगों के खाते की जानकारी लेकर बड़ी चालाकी से उनके बैंक खाता से राशि उड़ा ली जाती थी.

 

 

गिरफ्तारी की पूरी जानकारी देते हुए साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद ने बताया कि पुलिस ने मामले को लेकर जिला के मोहनपुर,नगर,मारगोमुण्डा और पालाजोरी थाना क्षेत्र के विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर 6 शातिर साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया. और इन सभी के पास से 14 मोबाइल,27 फ़र्ज़ी सीम,13 एटीएम,2 पासबुक, 2 चेकबुक और 8 हज़ार नगद बरामद किया गया है. इनमें से 1 का आपराधिक रिकॉर्ड भी है. मोहनपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला उमेश यादव नामक शातिर पहले भी इसी तरह के मामले में जेल जा चुका है. फिलहाल पुलिस गिरफ्तार सभी शातिरों से अलग अलग पूछताछ कर इनके अन्य सदस्यों की जानकारी ले रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.