रुर्बन मिशन के तहत एक दूसरे से सिंचाई के लिए सोलर पंप ले कर रही है कृषि कार्य

संवाददाता । कुमार सावन

लातेहार। जिलें में सिंचाई के लिए चलित सिचाई सोलर योजना महिला किसानों के लिए वरदान साबित हो रही हैI जिले के बरवाडीह प्रखंड अंतर्गत मंगरा रुर्बन क्लस्टर के चयनित ग्यारह गाँव के महिला किसानों को माउंटेन सोलर सिचाई योजना का लाभ लेने के साथ अन्य किसानों के भी रोल मॉडल बन रहे हैI श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुर्बन मिशन के तरफ से मिले माउंटेन सोलर पंप द्वारा बढ़िया सिंचाई मिलने की वजह से फसलों में भी बढ़ोतरी हुई है।वही रुर्बन कलस्टर की महिला समूह से जुडी मिना देवी, रीना देवी, लालमुनि देवी, प्रभा देवी, सुमन देवी समेत दर्जनों समूह उक्त योजना का लाभ लेकर अपनी आमदनी को को बढ़ा रही हैI

 

महिलाओं के समूह को एक माउंटेन सोलर पंप दिया गया हैI जिसमें सोलर पैनल और चार पहिया रिक्शे में फिक्स है I साथ ही इसके साथ एक मोटर पंप भी है,जिससे कुएं या नदीं के पानी से सिंचाई की जा सकती हैI इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि किसानों को सिंचाई करने के लिए बिजली का इंतजार नहीं करना पड़ता हैI ‘सोलर महिला किसान’ अपने फायदे के साथ-साथ, सभी ऐसे किसानों की मदद भी कर रहे हैं, जो अपने खेतों में पंप नहीं लगवा सकते हैं। इसके लिए उन्हें न्यूतम दर प्रति घंटे के हिसाब रुपये देने पड़ते थे I

 

महिला किसानों ने सिंचाई का बदला तरीका

सौर ऊर्जा माउंटेन पंप में एक एचपी का पंप लगा हुआ है, जिसे आसानी से एक जगह से दुसरे जगह लेकर जाया जा सकता है, इसके रख रखाव पर खर्च न्यूनतम है। इसलिए किसानों को भी इसमें कम खर्च वहन करना पड़ता है। उत्पादक समूह से जुड़े किसानों को 90 प्रतिशत अनुदान पर उपलब्ध कराया गया है।

 

महिला किसानो ने समाज में बदलाव की एक नई मुहिम छेड़ी है, सौर ऊर्जा से निशुल्क व नियमित पानी मिल रहा है। कुल मिलाकर कहा जाए तो सोलर सिस्टम होने से किसानों की तकदीर ही बदल गई है।

-इन्दु भूषण सिन्हा, जिला अभिसरण विशेषज्ञ रुर्बन मिशन, लातेहार

 

रुर्बन मिशन के तहत कलस्टर के ग्रामीण महिलाओं की आय दोगुनी करने की दिशा मे कार्य किये जा रहे है, किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है. इसके अलावा किसानों के पास सिंचाई के लिए बिजली का नहीं होना भी एक बड़ी समस्या हैI

-सुरेन्द्र कुमार वर्मा उप विकास आयुक्त, लातेहार

Leave a Reply

Your email address will not be published.