Prabhasakshi

भारत ए महिला टीम के कोच ग्रैंडमास्टर एम श्याम सुंदर ने कहा कि 44वें शतरंज ओलंपियाड में भारतीय टीम के पदक जीतने की संभावना प्रबल है। भारत की महिला ए टीम में कोनेरू हम्पी, डी हरिका, आर वैशाली , तानिया सचदेव और भक्ति कुलकर्णी हैं।

चेन्नई। भारत ए महिला टीम के कोच ग्रैंडमास्टर एम श्याम सुंदर ने कहा कि 44वें शतरंज ओलंपियाड में भारतीय टीम के पदक जीतने की संभावना प्रबल है।
भारत की महिला ए टीम में कोनेरू हम्पी, डी हरिका, आर वैशाली , तानिया सचदेव और भक्ति कुलकर्णी हैं।
श्याम सुंदर ने कहा ,‘‘ हमारे अधिकांश खिलाड़ी अनुभवी हैं और काफी साल से शीर्ष स्तर पर खेल रहे हैं। पदक जीतने की संभावना प्रबल है। तैयारियां बहुत अच्छी रही और सभी खिलाड़ी फॉर्म में हैं।’’

इसे भी पढ़ें: गोवा बार विवाद पर स्मृति ईरानी का पलटवार, कांग्रेस के खिलाफ बोलती हूं इस लिए बनाया गया मेरी बेटी को निशाना

उन्होंने कहा कि मेजबान होने के फायदे और नुकसान दोनों हैं।
उन्होंने कहा ,‘‘ दबाव लिये बिना सही मानसिकता के साथ उतरना होगा। हम अच्छा प्रदर्शन जरूर करेंगे।’’
श्याम सुंदर ने कहा कि रूस और चीन की गौर मौजूदगी में भारत ओपन और महिला दोनों वर्ग में पदक जीत सकता है।
उन्होंने कहा ,‘‘ दो मजबूत टीमों की गैर मौजूदगी से हमारी संभावना प्रबल हुई है। उनके खेलने से भी हम पदक के दावेदारों में रहते।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Leave a Reply

Your email address will not be published.