वाशिगटन : अमेरिका और उसके सहयोगी देशों ने पूर्वी डोनबास में भीषण युद्ध के बीच बुधवार को यूक्रेन को और अधिक रॉकेट प्रणालियां, गोला बारुद तथा अन्य सैन्य सहायता देने की प्रतिबद्धता जतायी। दुनियाभर के करीब 50 रक्षा नेताओं के साथ डिजिटल बैठक खत्म होने के बाद अमेरिका के रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन ने कहा कि सहयोगियों और साझेदारों को युद्ध खत्म करने के प्रयासों की ओर प्रतिबद्ध रखना ''कड़ी मेहनत का काम होगा।

ऑस्टिन ने कहा कि हम सैन्य सहायता के लिए दान देने की गति बनाए रखने और तेज करने के लिए कड़ा प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ''निकट भविष्य को देखते हुए इस पर ध्यान केंद्रित करना होगा। हालांकि, यह इस पर निर्भर करेगा कि हमारे सहयोगी और साझेदार कब तक प्रतिबद्ध रहेंगे…इसमें कोई शक नहीं है कि यह सुनिश्चित करना हमेशा कठिन काम होगा कि हम कब तक एकजुट रहें। बहरहाल, अधिकारियों ने यह बताने से इनकार कर दिया कि यह युद्ध कब तक चल सकता है, लेकिन सेना के जनरल मार्क मिले ने संकेत दिया है कि यह लंबे समय तक चल सकता है।
ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के अध्यक्ष जनरल मिले ने कहा, ''डोनबास में बहुत भीषण युद्ध चल रहा है।

किसी भी पक्ष को बढ़त मिलने तक, यह युद्ध संभवत: कुछ समय तक चलेगा, जब तक कि दोनों पक्षों को इससे बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं मिल सकता जो शायद बातचीत के जरिए या किसी और तरीके से हो सकता है। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि अमेरिका युद्धग्रस्त देश यूक्रेन को चार और 'हाई मोबिलिटी आर्टिलरी रॉकेट सिस्टम्स (एचआईएमएआरएस) तथा सटीक निशाने वाले रॉकेट के साथ ही अतिरिक्त तोपें भेजेगा। इस बारे में विस्तृत घोषणा इस सप्ताह तक हो सकती है। अमेरिका यह सहायता ऐसे समय में कर रहा है जब रूसी सेना यूक्रेन के पूर्वी डोनबास क्षेत्र में दो प्रांतों दोनेत्स्क और लुहांस्क में बढ़त मजबूत करने की कोशिश कर रही है जबकि अन्य इलाकों में हमले का दायरा बढ़ा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.