सावन का शुभ महीना आज से शुरू हो गया हैं । इस महीने भक्त पुरे महीने और प्रत्यक सोमवार को उपवास रखते हैं। जिसे श्रावण सोमवार या सावन सोमवार के नाम से जाना जाता है।

हर सोमवार भगवान शिव को समर्पित होता है उसी तरह सावन महीने में हर मंगलवार देवी पार्वती को समर्पित होता है। सावन मास में मंगलवार के व्रत को द्रिक पंचांग के अनुसार मंगल गौरी व्रत के नाम से जाना जाता है।

सावन 14 जुलाई से शुरू होकर इस साल 12 अगस्त तक रहेगा । पहले दिन प्रतिपदा तिथि रात 8:16 बजे तक प्रभावी रहेगी।

सावन माह का पहला दिन – गुरुवार, 14 जुलाई
पहला सावन सोमवार व्रत – सोमवार, 18 जुलाई
दूसरा सावन सोमवार व्रत – सोमवार, 25 जुलाई
तीसरा सावन सोमवार व्रत – सोमवार, 1 अगस्त
चौथा सावन सोमवार व्रत – सोमवार, 8 अगस्त
सावन मास का अंतिम दिन – शुक्रवार, 12 अगस्त

भक्त कांवड़ यात्रा भी शुरू करते हैं, जहां वे पवित्र नदियों से जल इकट्ठा करते हैं और कांवड़ों को अपने कंधों और मंदिरों में ले जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि जब तक भगवान शिव को अर्पित नहीं किया जाता तब तक पवित्र जल को फर्श या किसी अन्य सतह पर नहीं रखना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.