बर्मिंघम | इंग्लैंड के शीर्ष गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने भारत के साथ होने वाले पांचवें टेस्ट से पहले गुरुवार को कहा कि उन्होंने अपने 20साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में टीम में ऐसी शांति नहीं देखी जैसी वर्तमान इंग्लैंड टीम में है। एंडरसन ने कहा, मैं पहले कभी ऐसे ड्रेसिग रूम में नहीं रहा जहां हमने मुश्किल पिच पर 300(299) रनों का पीछा किया हो। हर कोई इतना शांत था कि हम इस लक्ष्य को हासिल कर ही लेंगे। मैंने 20साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के दौरान ऐसा पहले कभी नहीं देखा था।

उन्होंने कहा, आपको हमेशा कुछ घबराये हुए लोग मिलते ही हैं, लेकिन एक से 11 तक खिलाड़ी और सभी कर्मचारी धीरज और विश्वास से भरे हुए थे। मुझे लगता है कि यह विश्वास हमारे काम आ सकता है। हमारे पास युवा खिलाड़ी हैं। हम उनके आत्मविश्वास और अनुभव को विकसित करने की कोशिश कर रहे हैं, मुझे लगता है कि यह उनके लिए चमत्कार करेगा।इंग्लैंड ने बीते सोमवार समाप्त हुई टेस्ट श्रंखला में आक्रामक बल्लेबाजी की बदौलत न्यूज़ीलैंड को 3-0से शिकस्त दी।

एंडरसन ने न्यूजीलैंड के गेंदबाजों के प्रति सहानुभूति व्यक्त करते हुए कहा, मुझे लगता है कि यह भयानक है (जिस तरह इंग्लैंड ने बल्लेबाजी की)। मैं नहीं चाहूंगा कि कोई मेरे खिलाफ इस तरह बल्लेबाजी करे। मुझे लगा कि न्यूजीलैंड ने ईमानदारी से अच्छी गेंदबाजी की, खासकर उस स्पेल में जब उन्होंने 55 रन पर हमारे छह विकेट ले लिये थे। मैंने जितने भी बेहतरीन शुरुआती स्पैल देखे हैं, यह उनमें से एक था, लेकिन हमारे बल्लेबाजों में इस समय जो आत्मविश्वास है, वे निडर हैं। हमने यह उनके खेल में भी देखा। भारत और इंग्लैंड के बीच एक जुलाई से पांचवां टेस्ट मैच खेला जाएगा। यह मैच पिछले साल शुरू हुई श्रंखला का हिस्सा है, जो भारतीय खेमे में कोरोना के कुछ मामले सामने आने के बाद स्थगित कर दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.