बोस्टन : अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने अपने नेविगेशन सॉफ्टवेयर की आपूर्ति में देरी के कारण शुक्रवार को क्षुद्रग्रह से जुड़े एक मिशन को टाल देने की घोषणा की। साइकी नाम के एक अनोखे धातु क्षुद्रग्रह के बारे में विस्तृत जानकारी जुटाने के लिए इस साल सितंबर या अक्टूबर में एक अंतरिक्ष यान का प्रक्षेपण किया जाना था।

नासा के मुताबिक, एजेंसी की जेट प्रोपल्शन प्रयोगशाला ने नेविगेशन, मार्गदर्शन और नियंत्रण में सहायक सॉफ्टवेयर की आपूर्ति कई महीनों की देरी से की है, जिससे इस मिशन को फिलहाल ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। नेविगेशन सॉफ्टवेयर किसी भी अंतरिक्ष यान का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। नासा के ग्रह विज्ञान विभाग के प्रमुख लॉरी ग्लेज ने बताया कि नेविगेशन सॉफ्टवेयर की आपूर्ति में देरी के कारण अंतरिक्ष एजेंसी ने इस मिशन को फिलहाल रोकने का फैसला किया है।

ग्लेज के अनुसार, मिशन के लिए नेविगेशन सॉफ्टवेयर की आपूर्ति समय पर न हो पाने के कारणों के अलावा यान कब दोबारा प्रक्षेपण के लिए तैयार हो सकेगा, इन बातों का पता लगाने के लिए स्वतंत्र जांच की जाएगी। नासा साइकी मिशन पर अब तक 71.1 करोड़ डॉलर खर्च कर चुका है। इस मिशन की कुल अनुमानित लागत 98.5 करोड़ डॉलर बताई जा रही है। साइकी मिशन के तहत प्रक्षेपित किया जाने वाला यान एक अरब मील से अधिक की दूरी तय करने के बाद साल 2026 में क्षुद्रग्रह पर पहुंचता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.