History : आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 14 जून)

0
6
History  : आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 14 जून)


नई दिल्ली : भारत एवं विश्व इतिहास में 14 जून की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं:- 1634- रूस और पोलैंड के बीच पोलियानोव शांति समझौते पर हस्ताक्षर हुए।
1658- ड्यून्स की लडाई में ब्रिटिश और फ्रांसीसी सेनाओं ने स्पेन को हराया।
1775- अमेरिकी सेना की स्थापना हुई।
1777- अमेरिकी कांग्रेस ने बैठक के दौरान अपना झंडा चुना।
1880- वैज्ञानिक सतीश चंद्र दासगुप्ता का जन्म।
1900- हवाई क्षेत्र अमरीकी राष्ट्र का हिस्सा बना।
1901- पहली बार गोल्फ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ।
1905- प्रसिद्ध शास्त्रीय संगीतकार हीराभाई बारोडकर का जन्म।
1907- नॉर्वे में महिलाओं को मतदान करने का अधिकार मिला।
19०9- केरल के महान नेता ईएमएस नंबूदिरीपाद का जन्म हुआ।
1917- इंग्लैंड पर जर्मनी का पहला हवाई हमला, पूर्वी लंदन में सौ से ज्यादा लोगों की मौत।
1922- भारत के प्रसिद्ध फिल्म निर्माता और निर्देशक के आसिफ का जन्म।
1928- क्रांतिकारी चे ग्वेरा का जन्म हुआ। इन्होंने क्यूबा की मुक्ति में अपनी अह्म भूमिका निभाई।
1934- आस्ट्रिया की राजधानी वियना में हिटलर और बेनिटो मुसोलिनी की मुलाकात।
1940- द्बितीय विश्व युद्ध के दौरान जर्मनी की सेना ने फ्रांस की राजधानी पेरिस पर कब्जा किया।
1947- कांग्रेस कार्य समिति ने भारत विभाजन के लिए माउंटबेटन योजना की प्रस्ताव स्वीकृति को अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के समक्ष रखा।
1949- वियतनाम राष्ट्र का गठन।
1955- टॉक शो से लेकर फिल्मों में काम करने वाली किरण खेर का जन्म।
1958- डॉ सी.वी. रमन को क्रेमलिन में लेनिन शांति पुरस्कार प्रदान किया गया।
1962- फ्रांस की राजधानी पेरिस में यूरोपीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की स्थापना की गई जिसका नाम बाद में बदल कर यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी कर दिया गया ।
1969- 22 ग्रैंड स्लैम जीतन वाली टेनिस स्टार स्टेफी ग्राफ का जन्म।
1977- दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज बोएटा डिपेनार का जन्म हुआ। इन्होंने करियर में 38 टेस्ट में 1718 रन बनाए। इसके अलावा 107 वनडे में इनके नाम 3421 रन दर्ज हैं।
2001- जांच आयोग ने दीपेन्द्र को ही शाही परिवार का हत्यारा बताया।
2007- चीन के गोवी रेगिस्तान में पक्षिनुमा विशाल डायनसोर के जीवाश्म मिले।
2012- विशाखापत्तनम में भारतीय इस्पात संयंत्र में विस्फोट से 11 लोगों की मौत हो गई और 16 घायल हो गये।
2013- उत्तराखंड की केदारनाथ घाटी में आई तबाही। करीब पांच हजार से अधिक लोग इस त्रासदी का शिकार हुए।
2014- प्रधानमंत्री मोदी को भारतीय नौसेना ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here