हॉकी का 5एस फॉर्मेट पसंद आया

0
17
Raheel : हॉकी का 5एस फॉर्मेट पसंद आया

नई दिल्ली | पहला एफआईएच हॉकी 5एस खिताब जीतने वाली भारतीय टीम के युवा फॉर्वर्ड मोहम्मद रहील ने मंगलवार को कहा कि उन्हें हॉकी के छोटे फॉर्मेट में खेलना बहुत पसंद आया। पांच मैचों में 10गोल करने वाले 25 वर्षीय रहील को टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा गोल करने के लिये प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था।

टूर्नामेंट में भारत के अटैक की अगुवाई करने वाले रहील ने कहा, ”सबसे पहले, भारत के लिये खेलना बहुत अच्छा एहसास है। मैं खुश हूं कि मैं टीम में अपना योगदान दे सका। यह बेहतरीन अनुभव था और मैंने खेल के इस फॉर्मेट को बहुत पसंद किया।
राउंड-रॉबिन स्टेज में शीर्ष पर रहने वाली भारतीय टीम पूरे टूर्नामेंट में अजेय रही। भारत ने टूर्नामेंट की शुरुआत 4-3 की जीत के साथ की और पहले दिन के दूसरे मैच में पाकिस्तान के साथ 2-2 का ड्रॉ खेला।

इसके बाद रविवार को भारत ने मलेशिया और पोलैंड को क्रमश: 7-3 और 6-2 से हराया।
पांचों मैचों में भारत के लिये गोल करने वाले रहील ने पोलैंड के खिलाफ फाइनल मैच में दो गोल किये। भारत ने यह मुकाबला 6-4 से जीता। टूर्नामेंट के बारे में बात करते हुए रहील ने कहा, ”यह एक नया अनुभव था। मुकाबले तेज़ रफ़्तार थे लेकिन हमने हर मैच के साथ अपने खेल में सुधार किया और कई गोल दागे। हमने पेरीमीटर बोड्र्स का ज्यादा प्रयोग करना शुरू किया और उससे हमारे मैच को समाप्त करने के तरीके में सुधार आया। हम एक टीम के तौर पर काफी अच्छा खेले। पहला हॉकी 5एस जीतना बेहतरीन एहसास है।

राहील ने ‘प्रति टीम पांच खिलाड़ी प्रारूप में शामिल रोमांच पर बल देते हुए इस आयोजन को सभी प्रतिभागी टीमों के लिए एक यादगार अनुभव बनाने का श्रेय एफआईएच को दिया। उन्होंने कहा, ”हॉकी 5एस शुरू करने के लिए एफआईएच को श्रेय जाता है। यह लुसाने में एक सुंदर सेट-अप था, हमने वास्तव में इसका आनंद लिया। हम इतने लंबे समय के बाद दर्शकों से भरे मैदान में खेल रहे थे, इसलिए इसने इस अनुभव को और अधिक यादगार बना दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here