जबलपुर | मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान ने कहा है कि आने वाली पीढ़ियों के लिए यदि धरती को सुरक्षित रखना है तो वृक्षारोपण है। श्री चौहान ने आज जबलपुर के सर्किट हाऊस नंबर एक के परिसर में पौध-रोपण के बाद मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में यह बात कही। उन्होंने कहा कि पर्यावरण नहीं बचा तो आने वाली पीढ़ियों को अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए अधिक संघर्ष करना होगा। उन्होंने यहां जबलपुर की प्राणवायु और वॉक इन क्लीन संस्था के साथ पीपल और मौलश्री के पौधे लगाए।

श्री चौहान ने कहा कि पेड़ हमारे लिए जीवन के समान हैं, यह ऑक्सीजन देने के साथ कई जीव-जंतुओं को आश्रय देते हैं। पेड़ जल अवशोषित कर, गर्मी के दिनों में बूँद-बूँद पानी छोड़कर नमी बनाए रखने में भी सहायक हैं। उन्होंने जन-सामान्य से अपने जन्म-दिन, विवाह-वर्षगांठ और माता-पिता के पुण्य स्मरण में पौधे लगाने का आहवान किया। आज लगाए गए पीपल को पर्यावरण शुद्ध करने वाला माना गया है। यह छायादार वृक्ष के रूप में भी जाना जाता है। इसका धार्मिक और आयुर्वेदिक महत्व भी है। मौलश्री एक औषधीय वृक्ष है, इसका सदियों से आयुर्वेद में उपयोग होता आ रहा है।

.

Leave a Reply

Your email address will not be published.