पुड्डुचेरी। लोकतांत्रिक प्रगतिशील गठबंधन (डीपीए) ने केंद्र में भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार और केंद्रशासित प्रदेश में एन आर कांग्रेस-भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली वितरण कंपनी (डिस्कॉम) के निजीकरण के फैसले के विरोध में कई आंदोलन आयोजित करने का फैसला किया है।

एसडीए की गुरुवार रात हुई यहां एक बैठक में 3० और 31 मई को मानव श्रृंखला आयोजित करने का निर्णय लिया गया है और आने वाले दिनों में एक विशाल जुलूस को नई दिल्ली के लिए रवाना करने के साथ कांग्रेस और द्रमुक सांसदों की मौजूदगी में आंदोलन करने का फैसला किया गया है।

इस बैठक में जोर देकर कहा गया है कि डीपीए ने मुख्यमंत्री एन रंगास्वामी पर विश्वास खो दिया है, मुख्यमंत्री ने इस वर्ष फरवरी में लोगों के कल्याण के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाने का भरोसा दिया था, लेकिन बाद में उन्होंने केंद्रशासित प्रदेश में डिस्कॉम के निजीकरण के लिए अपनी हस्ताक्षर कर दी।

बैठक में कहा गया है कि सरकारी क्षेत्र के विद्युत वितरण कंपनी को निजीकरण करने से केंद्रशासित प्रदेश पुड्डुचेरी के लिए हानिकारक साबित होगा।उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र में एनडीए सरकार और पुड्डुचेरी में एनआर कांग्रेस भाजपा सरकार केंद्रशासित प्रदेश को कई ”जनविरोधी योजनाओं के परीक्षण का केंद्र बनाया है।इस बैठक में कांग्रेस, द्रमुक, भाकपा, माकपा, वीसीके और एमडीएमके सहित अन्य नेताओं ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.