काठमांडू | नेपाल के तारा एयर विमान के दुर्घटनास्थल से सोमवार को 14 शव बरामद किए गए, जो रविवार को चार भारतीयों सहित 22 लोगों के साथ लापता हो गया था। स्थानीय अखबार काठमांडू पोस्ट ने बचावकर्मियों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में कहा कि बचावकर्मियों ने तारा एयर के दुर्घटनास्थल से 14 शव निकाले और अन्य के अवशेषों की तलाश की जा रही है।

नेपाल सेना ने कहा कि विमान के लापता होने के करीब 20घंटे बाद विमान का मलबा मिला। देश के उत्तर-पश्चिमी भाग में मस्टैंग जिले के थासांग के सानो स्वरे भीर में 14,500फीट की ऊंचाई पर मलबा मिला है। नेपाल सेना के प्रवक्ता नारायण सिलवाल नेट्वीट किया, ”खोज व बचाव दल ने दुर्घटनाग्रस्त विमान का पता लगा लिया है। तारा एयर के प्रवक्ता सुदर्शन बरतौला ने बचावकर्मियों से मिली जानकारी के आधार पर कहा कि अभी तक 14 लोगों के शव बरामद हुए हैं।

श्री बरतौला ने कहा कि पहाड़ से टकराने के बाद विमान के टुकड़े-टुकड़े हो गए। पूरे पहाड़ी पर शव बिखरे पड़े हैं। मस्टैंग के मुख्य जिला अधिकारी नेत्र प्रसाद शर्मा ने कहा कि यारशगुम्बा (कैटरपिलर कवक) इककरने गए स्थानीय लोगों द्बारा दी गई जानकारी की मदद से दुर्घटनास्थल का पता लगाया गया। रविवार को मौसम खराब होने की वजह से खोज और बचाव दल दुर्घटनास्थल पर नहीं पहुंच सका। नेपाल सेना ने रविवार शाम बताया था कि अंधेरे और खराब मौसम के कारण खोज और बचाव अभियान को रोक दिया हैं।

आज सुबह हवाई और जमीनी स्तर पर फिर से खोज अभियान शुरू किया गया था। उल्लेखनीय है कि पोखरा हवाई अड्डे से उड़ा तारा एयर का टविनऑटर विमान रविवार सुबह लापता हो गया था। विमान में 19 यात्री और चालक दल के तीन सदस्य सवार थे। एयरलाइंस कंपनी के मुताबिक यात्रियों में 13 नेपाली, चार भारतीय और दो जर्मन नागरिक शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.