19 साल की किनवेन झेंग से मैच का पहला सेट अपने नाम कर लिया था। मेडिकल टाइमआउट के कारण खिलाड़ी दोबोरा से ठीक से नहीं खेल पाई क्योंकि उनकी सेहत ठीक नहीं थी और दर्द काफी ज्यादा हो रहा था। दूसरे सेट में किनवेन झेंग को इगा स्वियातेक के खिलाफ 6-7, 6-0 और 6-2 से हार का सामना करना पड़ा।

फ्रेंच ओपन का मैच चल रहा था लेकिन अचानक चीन की स्टार टेनिस खिलाड़ी किनवेन झेंग को बीच में ब्रेक लेना पड़ गया। बाद में जब मैच दोबोार शुरू हुआ तो वह टीन से नहीं खेल पाई और दुनिया की नंबर एक पोलैंड की इगा स्वियातेक के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। बता दें कि चीन की टेनिस खिलाड़ी उस दौरान मासिक धर्म या कहें पीरियड के दर्द से जूझ रही थी। पेट दर्द और पैर की चोट के कारण चीन की खिलाड़ी का फ्रेंच ओपन चैंपियन बनने का सपना टूट गया।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा और एसएसीबी ने पहना 2022 सब जूनियर राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैम्पियनशिप का ताज

19 साल की किनवेन झेंग से मैच का पहला सेट अपने नाम कर लिया था। मेडिकल टाइमआउट के कारण खिलाड़ी दोबोरा से ठीक से नहीं खेल पाई क्योंकि उनकी सेहत ठीक नहीं थी और दर्द काफी ज्यादा हो रहा था। दूसरे सेट में किनवेन झेंग को इगा स्वियातेक के खिलाफ 6-7, 6-0 और 6-2 से हार का सामना करना पड़ा। बता दें कि चीन की सिर्फ एक महिला खिलाड़ी ली ना ने ही फ्रेंच ओपन का खिताब जीता हैं।

सीएनएन के अनुसार, शुरूआती दौर में चीनी खिलाड़ी को कोई दर्द नहीं हुआ लेकिन चोटिल दाहिने पैर को स्ट्रैप करने के लिए उन्होंने मेडिकल टाइम आउट लिया। मीडिया से बातचीत के दौरान  खिलाड़ी झेंग ने कहा कि  ‘हां, पैर बहुत टाइट हो गया था, लेकिन पेट के मुकाबला इसका दर्द सहनीय था…. मैं अपना खेल नहीं सकती थी, मेरा पेट बहुत दर्द कर रहा था।’ झेंग ने मासिक धर्म के दर्द का जिक्र करते हुए कहा, ‘आप जानते हैं… यह सिर्फ लड़कियों की ही चीजें हैं। पहला दिन हमेशा बहुत कठिन होता है और फिर मुझे खेलना भी होता है। पहले दिन मुझे हमेशा बहुत दर्द होता है। मैं अपने स्वभाव के खिलाफ नहीं जा सकती थी।’ उन्होंने कहा, ‘काश मैं कोर्ट में पुरुष बन सकती, लेकिन मैं उस पल नहीं कर सकती… मैं वास्तव में चाहती हूं कि मैं पुरुष बन सकूं ताकि मुझे इसकी पीड़ा न झेलनी पड़ी।’

इसे भी पढ़ें: भारत के लॉन्ग जंपर मुरली श्रीशंकर ने किया नाम रौशन, जीता गोल्ड

झेंग ने आगे कहा, ‘अगर मुझे पेट दर्द नहीं होता तो मुझे लगता है कि मैं और अधिक आनंद ले सकती थी। जैसे कि बेहतर दौड़ना और कठिन हिट करना, कोर्ट पर अधिक प्रयास कर सकती थी। यह अफसोस की बात है कि मैं वह वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाई जैसा मैं आज करना चाहती थी। 

जानाकरी के लिए बता दें कि कई महिलाएं काम के बीच में ही ऐसी स्थितियों का शिकार हो जाती हैं। लेकिन उस समय सभी को समझ नहीं आता कि क्या किया जाए। यहां जाने टिप्स

1) अपनी नींद से समझौता न करें।

2) खूब पानी पिएं।

3) मासिक धर्म के दौरान चाय और कॉफी कम पीने की कोशिश करें।

4) दिन में कम से कम एक बार गर्म भोजन करें।

5) मासिक धर्म शुरू होने से कम से कम एक हफ्ते पहले तक सब्जियां अच्छे से खाएं।

कई चिकित्सक और पोषण विशेषज्ञ मानते हैं कि इन नियमों का पालन करने से पीरियड का दर्द कम हो जाएगा। 



Leave a Reply

Your email address will not be published.