जयपुर: राजस्थान में नौकरशाही के हावी होने की बात कहते हुए अपने इस्तीफे की पेशकश करने वाले खेल मंत्री अशोक चांदना ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलने के बाद अपने तेवर नरम कर लिये हैं। श्री चांदना शुक्रवार को शाम को मुख्यमंत्री से मिले और देर रात सोशल मीडिया के माध्यम से कहा कि उनकी मुख्यमंत्री से सभी विषयों पर सार्थक और लंबी चर्चा हुई।

वे राजस्थान कांग्रेस परिवार के अभिभावक हैं, जो निर्णय करेंगे, वो सही करेंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपना घर देखे, कांग्रेस परिवार मिशन 2023 के लिए एकजुट और लामबंद है। उल्लेखनीय है कि श्री चांदना ने गुरुवार देर रात को ट्वीट कर कहा था ”मुख्यमंत्री जी मेरा आपसे व्यक्तिगत अनुरोध है कि मुझे इस ज़लालत भरे मंत्री पद से मुक्त कर मेरे सभी विभागों का चार्ज श्री कुलदीप रांका को दे दिया जाए, क्योंकि वैसे भी वो ही सभी विभागों के मंत्री है।

इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने तनाव एवं काम के दबाव में इस तरह की बात की होगी, इसे गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। श्री चांदना के बयान के बाद कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां सहित कई नेताओं ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी।

.

Leave a Reply

Your email address will not be published.