फ्रेंच ओपन में हार के साथ सोंगा ने टेनिस को अलविदा कह दिया है।अपने कैरियर में विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान तक पहुंचे सोंगा 2008 आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल तक पहुंचे और डेविस कप विजेता फ्रांस की टीम के सदस्य रहे।

पेरिस। फ्रेंच ओपन पुरूष एकल वर्ग में आठवीं वरीयता प्राप्त कैस्पर रूड से मिली हार के बाद फ्रांस के जो विलफ्राइड सोंगा ने अश्रुपूरित नेत्रों से टेनिस को अलविदा कह दिया।
सोंगा को रूड ने 6 . 7, 7 . 6, 6 . 2, 7 . 6 से हराया।
अपने कैरियर में विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान तक पहुंचे सोंगा 2008 आस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल तक पहुंचे और डेविस कप विजेता फ्रांस की टीम के सदस्य रहे। उनका कैरियर हालांकि चोटों से प्रभावित रहा और पिछले साल 36 वर्ष का होने पर उन्होंने साल में 18 मैच खेलना ही तय किया था।

इसे भी पढ़ें: खेलो इंडिया यूथ गेम्स में पीतमपुरा के एस डी पब्लिक स्कूल की छात्राओं का हुआ चयन

अपने परिवार और घरेलू दर्शकों के सामने टेनिस को अलविदा कहते हुए उन्होंने कहा ,‘‘ मैने ऐसा माहौल कभी नहीं देखा। इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता था। अगर मैं जीत पाता तो सोने पे सुहागा हो जाता।’’
अन्य मैचों में डेनमार्क के होल्गर रूने ने 14वीं रैंकिंग वाले डेनिस शापोवालोव को 6 . 3, 6 . 1, 7 . 6 से हराया।
वहीं चौथी वरीयता प्राप्त सिटसिपास ने लोरेंजो मुसेटी को 5 . 7, 4 . 6, 6 . 2, 6 . 3, 6 . 2 से मात दी।
महिला वर्ग में 2017 की चैम्पियन येलेना ओस्टापेंको, 2018 की चैम्पियन सिमोना हालेप, सातवीं वरीयता प्राप्त एरिना सबालेंका, नौवीं वरीयता प्राप्त डेनियेले कोलिंस, 11वीं वरीयता प्राप्त जेसिका पेगुला भी दूसरे दौर में पहुंच गई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.