भोपाल। मध्यप्रदेश में हाल ही में कुछ स्थानों पर हिसक और पथराव की घटनाओं के बीच आज मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान ने सभी से आपसी सछ्वाव और भाईचारा बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि हमें समाज को तोड़ने वालों के प्रयास विफल करने होंगे।

श्री चौहान ने सुबह लगभग साढèे छह बजे राजगढऔर बड़वानी जिलों के अधिकारियों की वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कानून व्यवस्था और विकास योजनाओं के संबंध में जानकारी हासिल करने के साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए।

श्री चौहान ने इस दौरान कहा कि हमें समाज को तोड़ने वालों और समुदायों के बीच खाई उत्पन्न करने वालों के प्रयासों को विफल करना है। सभी धर्मों और जातियों के लोग हमारे भाई हैं। इनमें किसी प्रकार का भेद नहीं है। कुछ असामाजिक तत्व हैं, जो भ्रम फैलाकर समाज को बाँटते हैं। इन्हें पहचानने और इनसे सतर्क रहने की आवश्यकता है। इनके बहकावे में किसी को नहीं आने देना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दलित और गैरदलित की बात क्यों हो। दलित भी अपने भाई हैं और गैरदलित भी अपने ही हैं। उन्होंने बैठक में शामिल प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की ओर मुखातिब होते हुए कहा,”देखो अपन तो आएंगे और जाएंगे, लेकिन समाज तो यहीं रहने वाला है। पर इसमें अगर खाई पैदा हो गई, तो वह समाज के लिए घातक है।”

उन्होंने कहा कि उनका केवल इतना कहना है कि एक सोशल अभियान चलना चाहिए और गांव गांव में, जहां ऐसी चीजें होती हैं, बैठकें हो जाना चाहिए, ताकि इस तरह का माहौल न बने। उकसाने वाली भी चीजें नहीं होनी चाहिए।

प्रशासन और जनप्रतिनिधि आपसी सछ्वाव बनाने दोनों पक्षों के साथ बैठकें करें और समझाएं। अगर थोड़ी सी बातचीत हो जाएगी, लोग समझ जाएंगे, तो इस तरह की घटनाएं बंद हो जाएंगी।श्री चौहान ने बैठक में गर्मी के मद्देनजर जल इत्यादि की व्यवस्थाओं की जानकारी भी ली। राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं के बारे में भी उन्होंने प्रगति के बारे में पूछा और दिशानिर्देश दिए।

.

Leave a Reply

Your email address will not be published.