लखनऊ | बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को समाजवादी पार्टी (सपा) और इसके संस्थापक मुलायम सिह यादव पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से मिले होने का आरोप लगाया है। मायावती ने हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में बसपा द्बारा भाजपा को लाभ पहुंचाने के सपा सहित अन्य विपक्षी दलों के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि भाजपा के साथ बसपा नहीं बल्कि सपा और मुलायम सिह मिले हुए हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिछले शपथ ग्रहण समारोह में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को मुलायम सिह द्बारा भाजपा का आशीर्वाद दिलाने का भी आरोप लगाया। मायावती ने तंज कसते हुए सोशल मीडिया पर अपनी एक टिप्पणी में कहा, ”बीजेपी से, बी.एस.पी. नहीं बल्कि सपा संरक्षक श्री मुलायम सिह खुलकर मिले है, जिन्होंने बीजेपी के पिछले हुये शपथ में, श्री अखिलेश को बीजेपी से आर्शीवाद भी दिलाया है और अब अपने काम के लिए एक सदस्य को बीजेपी में भेज दिया है। यह जग-जाहिर है।

उन्होंने ट्विट कर कहा, ” यू.पी. में अम्बेडकरवादी लोग कभी भी सपा मुखिया श्री अखिलेश यादव को माफ नहीं करेंगे, जिसने, अपनी सरकार में इनके नाम से बनी योजनाओं व संस्थानों आदि के नाम अधिकांश बदल दिये है। जो अति निन्दनीय व शर्मनाक भी है।

.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.