भोपाल, पूर्व कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिह ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी नियाज खान की ओर से’द कश्मीर फाइल्सके निर्देशक विवेक अग्निहोत्री को दिए सुझाव के समर्थन में उतरते हुए आज कहा कि अगर फिल्म की कमाई कश्मीरी पंडितों के बच्चों के लिए दी जाती है तो किसी को ऐतराज नहीं होना चाहए।श्री सिह ने अपने ट्वीट में कहा कि श्री खान का ये अच्छा सुझाव है। यदि फिल्म की कमाई कश्मीरी पंडितों के बच्चों की पढ़ाई के लिए व उनके हित के लिए दी जाती है तो किसी को एतराज़ नहीं होना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने श्री खान द्बारा कल श्री अग्निहोत्री को दिए सुझाव संबंधित एक खबर का लिक भी पोस्ट किया है। हालांकि श्री सिह एक बार फिर अपने इस ट्वीट को लेकर ट्रोलर्स के जम कर निशाने पर आ गए हैं।

दरअसल प्रशासनिक अधिकारी श्री खान पिछले दो दिन से अपने ट्वीट को लेकर खबरों में बने हुए हैं। कल उन्होंने अपने ट्वीट में कहा था कि कि’द कश्मीर फाइल्सकी कमाई करीब डेढè सौ करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। फिल्म के निर्देशक को इस फिल्म से कमाई राशि को कश्मीरी पंडितों के बच्चों के पुनर्वास में लगा देना चाहिए। उनके इस ट्वीट पर श्री अग्निहोत्री ने जवाब देते हुए कहा था कि श्री खान उन्हें मुलाकात का समय दे दें, ताकि वे आपस में मिल कर इस बात पर विचार कर सकें कि कैसे वे कश्मीरी पंडितों की मदद कर सकते हैं

कैसे श्री खान अपनी किताबों की रॉयल्टी से और बतौर प्रशासनिक सेवा अधिकारी मदद कर सकते हैं। दो दिन पहले भी श्री खान नेट्वीट में कहा था कि निर्माताओं को देश भर में बड़ी संख्या में हो रहे मुस्लिमों के नरसंहार पर भी फिल्म बनानी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वे विभिन्न मौकों पर हुए मुस्लिमों के नरसंहार पर एक किताब लिखने के बारे में सोच रहे हैं, ताकि कोई निर्माता उनकी किताब पर भी कश्मीर फाइल्स जैसी कोई फिल्म बनाए और अल्पसंख्यकों के दर्द को सभी के सामने लाया जा सके।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.