भागलपुर/आशीष कुमार: भागलपुर जिले के धोबिनिया गांव में मकई के खेत के समीप अपराधियों ने मधेपुरा जिला के चौसा निवासी करीब 50 साल के भरत यादव की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर नवगछिया थानाध्यक्ष दलबल के साथ पहुंच कर मामले की जांच में जुट गई है । हत्या का आरोप मृतक के भतीजे पर ही लग रहा है। मामला जमीन विवाद से जुड़ा हुआ है।

वहीं, मृतक के भांजा विनोद यादव ने बताया कि मृतक मधेपुरा जिले के चौसा का रहने वाला है। जमीन विवाद में भतीजा ने हत्या करने की धमकी दिया था। इसके बाद वह नवगछिया थाने के धोबिनिया गांव के निवासी बहनोई गोसाई यादव के घर रह रहा था। रविवार की सुबह मकई के खेत के पास से लाश की बरामदगी हुई है। मृतक पंजाब से 32 साल बाद आया था घर। जमीन विवाद को लेकर भाई और भतीजा ने जान मारने की धमकी दी थी।

थाने में की थी शिकायत

मृतक भरत यादव पंजाब में रह कर काम करता था। वहीं पर अपने भाई से जमीन खरीदा था। इसके बाद 32 साल बाद बिहार के मधेपुरा जिला के चौसा अपने घर कुछ दिन पहले आया था। इसके बाद चौसा में भतीजा और भाई ने जमीन को लेकर विवाद शुरू कर दिया था। चौसा थाने में भी शिकायत किया था। इसके बाद मृतक डर के मारे अपने बहनोई के यहां नवगछिया के धोबिनिया गांव गोसाई यादव के यहां रहता था।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जांच में जुट गई है। मृतक भरत यादव को चौसा में भी हत्या करने का प्रयास किया था। वहीं मृतक के भांजा विनोद यादव ने बताया कि चौसा में भी भरत यादव को दूध में जहर देकर मारने का प्रयास किया था लेकिन किसी तरह बच गया था। मृतक के बड़े भाई को भी मंझले भाई ने जमीन विवाद को लेकर हत्या किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.