चुम्बन दिवस (किस डे) – 13 फरवरी नजरिया बदलें, जन्मभूमि को चूमे और कुछ संकल्प लें : डॉ. प्रदीप सिंह देव

0
93



देवघर। पिछले सात फरवरी से वेलेंटाइन सप्ताह की शुरूआत हो चुकी है। रोज, प्रोपोज, टेड्डी, चॉकलेट, प्रॉमिस, हग डे के बाद किस डे अर्थात चुम्बन दिवस की तैयारी में प्रेमी युगल लगे हुए हैं। पर अब हमें अपनी नजरिया बदलनी होगी। इस वर्ष चुम्बन दिवस के अवसर पर हम वतन हम अपनी जन्मभूमि को चूमें और कुछ संकल्प लें। हमारा भारत देश विश्व में विश्वगुरु के रूप में जाना जाता हैं। यह दक्षिण एशिया में बसा और 3 दिशाओ से समुन्द्र से गिरा। यह देश हिन्दुस्थान के नाम से भी जाना जाता हैं। इसमें वर्तमान में 29 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं। यहाँ कई धर्मो और जातियों के लोग रहते हैं और उन सब में आपस में काफी एकता और भाईचारा दिखता हैं। यहाँ एकता में अनेकता दिखाई देती हैं। यहाँ जितने भी राज्य हैं, उन सभी राज्यों की संस्कृति और कला अलग झ्रअलग हैं। बावजूद इसके हमारे देश संस्कृति और सभ्यता में एकता की जलख दिखती हैं।

मैं एक भारतीय हूँ और मुझे भारतीय होने पर गर्व हैं। हमारे देश में रहने से काफी सुकून और शान्ति का अनुभव होता हैं। हमारे देश में पर्यटकों के आने के लिए हवाई जहाज और पानी के जहाज के दोनों की सुविधाए हैं। हमारे देश की खूबसूरती हमे पहाड़ो और नदियो के साथ यहा के इतिहास में भी देखने को मिलती है। हमारे देश की कला और संस्कृति के बारे में सीखने और हमारी संस्कृति को अपनाने के लिए विदेश से आते हैं। इसकी संस्कृति पर हमे काफी गर्व हैं। तो आज किसी कवि की पँक्तियों को दुहरायें –

यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान
कहें इसे सप्तसिंधु, इंडिया
भारत और हिन्दुस्तान
यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान।

एकता का ये पाठ सिखाये
कुदरत का हर रंग दिखाए
ईद हो या फिर हो दिवाली
मिल कर हम सब त्यौहार मनाये,
इंसानियत से है नाता सबका
इक दूजे में बसते प्राण
यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान।

पवन, पवित्र और सुन्दर है
धरती ये गुरुओं पीरों की
घर-घर में सुनाई जाती गाथा
योद्धाओं और वीरों की
इसलिए मेरी मातृभूमि पर
मुझे हर क्षण ही है अभिमान
यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान।

यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान
कहें इसे सप्तसिंधु, इंडिया
भारत और हिन्दुस्तान
यूँ तो देश कई धरती पर
पर मेरा देश है सबसे महान।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here