बरवाडीह/लातेहार। केंद्र सरकार ने 2022-23 बजट सदन के सामने रखा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को 11:00 बजे सदन में बजट पेश करते हुए इसे समावेशी एवं सभी वर्गों को ध्यान में रखकर बनाया गया बजट बताया। वही बजट पेश होने के बाद सत्ता पक्ष के लोगों ने इस बजट को जहां सराहा वहीं विपक्ष ने इस बजट को किसान विरोधी, मध्यवर्ग विरोधी बताकर पूरी तरह खारिज कर दिया। इस बजट को लेकर लातेहार यूथ कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष हिमांशु गुप्ता रिकी ने निराशा जाहिर करते हुए कहा कि यह सरकार केवल पूंजीपतियों की सरकार है। किसानों तथा मध्यवर्गीय से इनका कोई लेना देना नहीं है। सरकार को पहले किसानों के बारे में तथा मध्यवर्ग के बारे में सोचना चाहिए। किसान अपनी मांगों को लेकर एक साल से धरने पर थे। इस बजट में उनके लिए क्या है सरकार स्पष्ट नहीं कर पाई इस बजट में, मध्यवर्ग महंगाई की मार झेल रहा है खाद्य पदार्थ मांगे हैं खाद्य तेल की कीमत आसमान छू रहा है। यह बजट कहीं से भी जन उपयोगी नहीं है। किसानों की दुगनी आय करने, स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार के दृष्टि से यह बजट पूरी तरह से फ्लॉप शो साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.